याददाश्त
1 0
Read Time:5 Minute, 4 Second

आजकल के आधुनिक जीवन में हम सबकी जिंदगी में इतना तनाव है कि इसका बुरा असर हमारी याददाश्त पर भी पड़ता है इसलिए हम आपको ऐसी 10 चीजों के बारे में बताने जा रहे हैं जिसको आप अपनी डाइट में शामिल करके अपनी याददाश्त बढ़ा सकते हैं।
अखरोट
अखरोट में ओमेगा 3 फैटी एसिड विटामिन ई और एंटी ऑक्सीडेंट पाए जाते हैं जो आपके दिमाग को तरोताजा रखते हैं और आपकी याददाश्त बढ़ाने में भी मदद करते हैं अखरोट खाने से ना केवल आपकी याददाश्त बढ़ती है बल्कि आपका शरीर भी मजबूत होता है इसीलिए अगर आप अपनी कमजोर याददाश्त परेशान है तो अपनी डाइट में अखरोट को सम्मिलित जरूर करें।
 बादाम
बादाम में भी अखरोट की तरह एंटी ऑक्सीडेंट फैटी एसिड ओमेगा 3 विटामिन ई के साथ-साथ विटामिन B6 पर्याप्त मात्रा में पाया जाता है जो कि याददाश्त बढ़ाने में सहायता करता है। इसीलिए आप बादाम को अपनी रोज की डाइट में जरूर शामिल करें।
आंवला
आंवले में विटामिन सी के साथ-साथ कार्बोहाइड्रेट कैल्शियम फास्फोरस आयरन के साथ-साथ निकोटीनिक एसिड गैलिक एसिड, टैनिक एसिड, शर्करा (ग्लूकोज), अलब्यूमिन, काष्ठौज आदि तत्व भी पाए जाते है। जो हमारी याददाश्त बढ़ाने में मुख्य भूमिका निभाते हैं इसीलिए आंवले का सेवन बहुत आवश्यक है।
अलसी के बीज
अलसी के बीजों में ओमेगा-3 भरपूर मात्रा में पाया जाता है और इसके साथ-साथ इसमें एंटी ऑक्सीडेंट अल्फा लाइनोइक एसिड पाया जाता है जो ना केवल हमारे याददाश्त बढ़ाता है बल्कि हमारे रक्तचाप और हृदय संबंधित समस्याओं में भी मददगार होता है।
कद्दू के बीज
पौष्टिक आहार से भरपूर होने के कारण कद्दू के बीज का रोजाना सेवन करने से कई फायदे होते हैं। चाहें यह साइज में छोटे हैं लेकिन इनके फायदे बड़े हैं। यह छोटे बीज मिनरल्स, विटामिन, हाई फाइबर से भरपूर हैं। जो हमारी याददाश्त बढ़ाने में भी मददगार होते हैं।
कलौंजी
कलौंजी में आयरन, सोडियम, कैल्शियम, पोटैशियम और फाइबर होता है। यह अमीनो एसिड और प्रोटीन से भरपूर है। यही वजह है कि आयुर्वेद विशेषज्ञ दवाओं में इसका इस्तेमाल सदियों से करते आ रहे हैं। कलौंजी के नियमित सेवन से याददाश्त तेज होती है।
डार्क चॉकलेट
एक अध्ययन के अनुसार दो सप्ताह तक रोजाना डार्क चॉकलेट खाने से तनाव कम होता है।चॉकलेट खाने से तनाव बढ़ाने वाले हार्मोन नियंत्रित होते हैं। ऑस्ट्रेलियाई शोधार्थियों के अनुसार डार्क चॉकलेट खाने से हाई ब्लड प्रेशर संतुलित होता है। कोको में मौजूद एंटीऑक्सीडेंट्स कई स्वास्थ्य समस्याओं में फायदेमंद होते हैं। चॉकलेट को ऑक्सीडेटिव तनाव घटाने के लिए बहुत शक्तिशाली माना गया है। इसकी वजह से सूजन, चिंता और इंसुलिन प्रतिरोध जैसी समस्याएं उत्पन्न होती जाती हैं। इसलिए चॉकलेट केवल स्वाद में नहीं, स्वास्थ्य के लिहाज से भी बहुत असरदार है। डार्क चॉकलेट के सेवन से याददाश्त तेज होने के साथ-साथ हमारे शरीर को और भी कई फायदे होते हैं।
शहद
शहद में विटामिन बी, एंटीऑक्सीडेंट्स, पोटैशियम, फॉस्फोरस और मैग्नीशियम अच्छी मात्रा में होता है जो दिमाग की सेहत के लिए फायदेमंद है। यह याददाश्त बढ़ाने में भी मददगार होता है।
गेहूं
गेंहू और इससे बनी चीजों के सेवन से भी याददाश्त बेहतर रहती है। इसमें विटामिन ई और एंटीऑक्सीडेंट्स अच्छी मात्रा में होते हैं जो बढ़ती उम्र में दिमाग तक रक्त संचार बढ़ाने में मदद करते हैं।

Happy
Happy
0 %
Sad
Sad
0 %
Excited
Excited
0 %
Sleppy
Sleppy
0 %
Angry
Angry
0 %
Surprise
Surprise
0 %

By